18 Nov 2020

कैंसर के लिए रामबाण है योग

पुराने समय में हमारे पूर्वजो को कैंसर जैसी कोई भयानक बीमारी नहीं होती थी जिसकी वजह है की वो रोजाना योगासन करते है और योगासन कैंसर को भगाने में कारगर है जिसे विज्ञान भी धीरे धीरे मानने लगा है | अगर आपको कैंसर की शिकायत है तो रोजाना योग कीजिए और अगर आपको इसकी शिकायत नहीं है तो इससे बचने के लिए आपको योगासन करना चाहिए | आइये जानते है कौन से योगासन कैंसर में रामबाण है 


1 .कैट स्ट्रेच..

इसे कैट स्ट्रेच इसीलिए कहा जाता है की इसमें आपकी आकृति बिल्ली के सामान हो जाती है | इसे करने के लिए सबसे पहले आपको चार पैरो में आना होगा मतलब अपने शरीर को अपने दोनों हाथो की हथेलियों और घुटनों के बल खड़ा कीजिए जैसे बिल्ली कड़ी रहती है और चलती है | इस स्थिति में आने के बाद अपनी गर्दन को आसमान की तरफ करे और फिर नीचे झुकाए और यह प्रक्रिया लगातार दोहराएँ | ऐसा करने से आपको गले के कैंसर से मुक्ति मिलती है और गर्दन सम्बन्धी कोई विकार नहीं होते 


2 .भारद्वाज आसन.. 

यह आसन मुख्य रूप से ओवेरी में होने वाले कैंसर के लिए कारगर है और उसमे आराम दिलाता है | सबसे पहले आप घुटनों के बल सीधे बैठ जाएं | इसके उपरांत अपने हिप्स को अपने पंजों पर रखने के बजाय जमीन पर रखें, जिससे दोनों पैर अपने आप किनारे हो जाएंगे | पहले दाहिने हाथ को बाएं घुटने पर रखें और दाएं हांथ को पीछे से बाईं कोहनी को पकड़ें तथा शरीर को बाईं ओर मोड़ें | और इसके साथ ही अपनी गर्दन को दाईं ओर मोड़ें , कुछ सेकंड बाद सीधे हो जाएं | एक समय पर आप 30 सेकंड से 1 मिनट तक स्ट्रेच कर सकते हैं |


3  . बंधाकोण आसन..

इसे तितली आसन या बटरफ्लाई पोज़ भी कहा जाता है क्योकि इसमें आपकी आकृति तितली के सामान हो जाती है | इसे करने के लिए सबसे पहले जमीन में बैठ जाइए और दोनों पैरो के घुटनों को मोड़ते हुए अपने दोनों तलवों को को पास में मिला ले और उन्हें हाथो से पकड ले | अब आपकी आकृति तितली के सामान बन जायेगी और आप फैले हुए दोनों पैरो को एक साथ हलके हलके ऊपर नीचे लगातार करे | ऐसा करने से आपको कैंसर नजात मिलेगी और यह ख़ास मूत्र मार्ग या किडनी में हुए कैंसर के लिए बहुत फायदेमंद है


4  .कपालभाती..

यह प्राणायाम का मुख्य रूप है और इससे कैंसर का काफी हद तक उपचार संभव है | इसे करने से रक्त सोधन की क्रिया बढ़ती है और शरीर के उतक कार्य करने योग बनते है जिससे कैंसर खत्म होने लगता है | इसे करने के लिए सबसे पहले जमीन में आराम से बैठ जाइए और अपने हाथो को पैर में रख ले | अब नाक से जोर जोर से सांस बाहर फेंके और यह प्रक्रिया बहुत जल्दी जल्दी करे | यह आसन रोजाना दस मिनट करे जिससे आपको इस घातक बीमारी में आराम मिलेगा और आप स्वस्थ होंगे |